Home Biography शहीदे आज़म भगत सिंह से जुड़े रोचक तथ्य | Bhagat singh Facts...

शहीदे आज़म भगत सिंह से जुड़े रोचक तथ्य | Bhagat singh Facts In Hindi

169
0
SHARE
शहीदे आज़म भगत सिंह से जुड़े रोचक तथ्य | Bhagat Singh Facts In Hindi | Shaheed e Azam Bhagat Singh history in Hindi | bhagat singh ki jivani in hind :- भगत सिंह के नाम को आज कौन नहीं जानता। महज 23 साल की उम्र में कोई ऐसा काम कर गया, जिसे पूरी दुनिया याद रखेगी। आज तक हम Bhagat Singh के बारे में किताबों में ही पढ़ते आ रहे हैं, यहां तक कि हमारी भारत सरकार शहीदे आजम भगत सिंह को शहीद भी नहीं मानती। किताबों में हमें सारी बातें नहीं बताई जाती आज हम आपको भगत सिंह से जुड़े रोचक तथ्य और भगत सिंह का इतिहास बताने वाले है।
इनके भी रोचक तथ्य पढ़े :-  सलमान खानअडोल्फ़ हिटलरराजीव गांधी |
bhagat singh ka itihas | bhagat singh facts in hindi
bhagat singh facts in hindi

HISTORY OF BHAGAT SINGH IN HINDI – BHAGAT SINGH DOCUMENTARY HIND – भगत सिंह का इतिहास 

भगत सिंह का इतिहास 1960 से लेकर 1931 तक का है। जब जलियांवाला बाग कांड हुआ तो भारत से केवल 12 साल की थी। जिन्होंने उनके दिल में स्वतंत्रता की आग लगा दी, और अपने घर परिवार को छोड़कर कॉलेज के दिनों के बाद उन्होंने चंद्रशेखर आजाद की पार्टी को के साथ जुड़ गऐ, और तभी से उनकी आजादी की लड़ाई शुरू हो गई।
bhagat singh ka itihas | shaheed e azam bhagat singh history in hindi
shaheed e azam bhagat singh history in hindi
यह भी पढ़ें:-  टोक्यो – यहां है दुनिया की सबसे महंगी चीजें

“Bhagat Singh Unknown Facts In Hindi”

1. भगत सिंह का जन्म 28 सितंबर 1907 को लायलपुर पंजाब में हुआ था जो अब Pakistan में है।
2. भगत सिंह के पिता का नाम सरदार किशन सिंह संधु और माता का नाम विद्यावती था।
3. जब जलियांवाला कांड हुआ तब भगत सिंह महज 12 साल के थे, और उस घटना ने उनके दिलोदिमाग में क्रांति की एक आग जला दी।
4. Bhagat Singh के माता पिता उनकी शादी कराना चाहते थे, लेकिन भगत सिंह शादी नहीं करना चाहते थे उनके माता-पिता के पूछने पर भगत सिंह ने जवाब दिया, कि अब आजादी ही मेरी दुल्हन बनेगी और वह अपना घर छोड़कर कानपुर चंद्रशेखर आजाद के साथ जुड़ने के लिए आ गए थे।
यह भी पढ़ें:-  गुजरात – व्यापारीयों और हीरे का शहर
5. महात्मा गांधी अहिंसा के रास्ते पर चलकर आजादी लाना चाहते थे, लेकिन भगत सिंह उनसे सहमत नहीं थे बहुत सिंह को ऐसा लगता था, कि बिना हथियार उठाए पूरी आजादी नहीं मिल सकती पूरी आजादी इंकलाब से ही मिलेगी।
6. इंकलाब जिंदाबाद का नारा भगत सिंह नहीं दिया था, जो आज भी लोगों के दिलों में जिंदा है।
7. भगत सिंह से जुड़े सामान उनके जूते , घड़ी , कपड़े आज भी संग्रहालय में सुरक्षित रखिएगा।
Bhagat Singh Shoes and shirt - facts about bhagat Singh in hindi
Bhagat Singh Shoes and shirt – facts about bhagat Singh in hindi
8. भगत सिंह के जिंदा रहते हुए देश में क्रांति की लहर उठ रही थी और महात्मा गांधी ऐसा नहीं चाहते थे महात्मा गांधी चाहते तो भगत सिंह की फांसी रुकवा सकते थे, लेकिन उन्हें भगत सिंह की फांसी नहीं रुकवाई।
यह भी पढ़ें:- इस देश में है सबसे ज्यादा एड्स के मरीज
9. भगत सिंह और उनके साथियों ने सेंट्रल असेंबली में जो बम फेंके थे। वह बहुत ही low Quality के थे, क्योंकि उनका उद्देश्य किसी को नुकसान पहुंचाना नहीं था, उनका उद्देश्य सिर्फ अपनी बात रखना था।
10. अपने कॉलेज के दिनों में भगत सिंह एक अच्छे अभिनेता भी थे, और उन्होंने अनेक नाटकों में हिस्सा भी लिया था।
11. स्कॉट सांडर्स को गोली मारकर लाला लाजपत राय जी की मौत का बदला लेने के बाद भगत सिंह के पीछे ब्रिटिश सरकार पड़ गई थी, इसलिए उन्होंने अपने बाल और दाढ़ी भी कटवा दी थी, ताकि उनको कोई पहचान ना सके।
lala lajpat rai - Amazing facts about bhagat singh in hindi
lala lajpat rai – Amazing facts about bhagat singh in hindi
12. शायद आपको पता ना हो भगत सिंह रसगुल्ले खाने के बहुत शौकीन थे, और मौका मिलते ही वह यशपाल और राजगुरु के साथ रसगुल्ले खाने चले जाया करते थे, और उन्हें चार्ली चैप्लिन की फिल्म देखने का भी बहुत शौक था।
Bhagat singh facts in hindi | Bhagat Singh, Sukh Dev And Raj Guru | Bhagat singh information in hindi
Bhagat Singh, Sukh Dev And Raj Guru – Bhagat singh information in hindi
यह भी पढ़ें:-  Mauritius से जुड़े रोचक तथ्य जानकर चौक जाओगे
13. भगत सिंह को लिखने का बहुत शौक था और वह एक अच्छे लेखक भी थे, और उन्होंने पंजाबी और उर्दू अखबारों मैं लिखते भी थे।
14. भगत सिंह की अंतिम इच्छा थी, की उनको फांसी ना दी जाए उनको गोली मार दी जाए लेकिन अंग्रेजी हुकूमत ने उनकी या की इच्छा भी ना सुनी।
Bhagat singh documentary Hindi | Bhagat singh death | Bhagat singh facts in hindi
Bhagat singh death – Bhagat singh facts in hindi
15. 23 मार्च 1931 को भगत सिंह को रात 7:00 बजे फांसी दे दी गई थी, और इस काम को इतनी जल्दी कराया गया कि भगत सिंह के घरवालों को भी नहीं बताया गया और मैं व्यास नदी के पास जला दिया गया।
16. शायद आपको पता ना हो भगत सिंह की चिता को दो बार जलाया गया था।

तो दोस्तों यह थे “शहीदे आज़म भगत सिंह से जुड़े रोचक तथ्य | Bhagat singh Facts In Hindi” उम्मीद करता हूं यह पढ़कर आपको अच्छा लगा होगा और हमारे Facebook Page को लाइक करना ना भूले।
यह भी पढ़ें:- “अलीबाबा और चालीस चोर” की कहानी इस देश में लिखी गई
यह भी पढ़ें:-  दिल्ली से जुड़े मजेदार रोचक तथ्य
यह भी पढ़ें:- नींद के बारेे में यह बातेंं जान लो वरना पछताओगे
SHARE
Previous article17 जुलाई के इतिहास में क्या हुआ था | 17 July In History In Hindi
Next article19 जुलाई के इतिहास में क्या हुआ था | 19 July In History In Hindi
I am Gulshan Verma. इस वेबसाइट को बनाने का मेरा मकसद सिर्फ यही था, कि मैं लोगों तक दुनियाभर के रोचक तथ्यो की जानकारी दे सकूं। ⇒Amazingandcurious.com⇐ हिंदी की एक ऐसी Website है, जहां आपको रोचक तथ्य, जानी मानी हस्तियों की Biography और Hindi Quotes और Technology से संबंधित चीजें पढ़ने को मिलेंगी। हमें आप लोगों का साथ चाहिए ताकि यह वेबसाइट इंडिया की No. 1 हिंदी वेबसाइट बन सके। आप अपने दोस्तों को भी इस वेबसाइट के बारे में बताएं ताकि वह भी हर रोज नए नए रोचक तथ्य पढ़ सकें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.